मानव शरीर के पोषक तत्व Nutrients of the human body


मानव शरीर को चलाने वाले महत्वपूर्ण पोषक तत्व



शरीर की बनावट Texture बड़ी ही जटिल है। मानव शरीर मे किन पोषक तत्वों की जरूरत पड़ती हैजिससे की हम बीमारियों से बचें रहेहमारे शरीर को कोनसे पोषक तत्व poshak tatva चाहिएतो आइये जान लेते हैं |
मानव शरीर में पाई जाने वाली माँसपेशियाँ Muscle, त्वचाबालआँखेंहड्डियाँरक्त आदि काफी तत्वों Elements से मिलकर बने हैं इनमें कई प्रकार के कार्बोहाइड्रेट्स Carbohydrates प्रोटीन्स proteins विटामिन्स vitamins, minerals, वसा fats, पानी व अन्य तत्व शामिल है।

वैज्ञानिकों के अनुसार :

manav sharir ke poshak tatva: 

हमारे शरीर में 100 प्रकार के प्रोटीन्स proteins, 13 प्रकार के विटामिन्स vitamins  14 प्रकार के मिनरल्स minerals होते हैं। कुछ तत्व शरीर में ज्यादा ’’Micro nutrients सूक्ष्म पोषक तत्व’’ मात्रा में होते हैं पर सबका अपना-अपना महत्व है। सूक्ष्म मात्रा में पाए जाने वाले तत्व tatva भी उतने ही महत्वपूर्ण Important होते हैं जितने की ज्यादा मात्रा में पाए जाने वाले। इसलिए अच्छे स्वास्थ्य Good health के लिए इन सभी पोषक तत्व poshak tatva का शरीर body में संतुलन होना आवश्यक Required है,

कार्बोहाइड्रेट्स Carbohydrates शरीर के विभिन्न अंगों को ऊर्जा Energy प्रदान करते हैं जबकि प्रोटीन्स Proteins व खनिज minerals विभिन्न अंगों जैसे खूनत्वचाहड्डियाँबाल व अन्य अन्दरूनी अंगों Internal organs को बनाने का कार्य करते हैं। हमारे शरीर में प्रतिदिन इन अंगों की पुर्नरचना Restoration होती रहती है।
मानव शरीर के पोषक तत्व
Nutrients of the human body

हमारे शरीर में 200 अरब लाल रक्त कणों का निर्माण होता है और शरीर का पूरा रक्त 120 दिन में परिवर्तित हो जाता है। इसी तरह 30 से 90 दिन में हमारी त्वचा नई बन जाती है।

कई विटामिन्स Vitamins  मिनरल्स minerals उत्प्रेरक का कार्य करते हैं जो भोजन को ऊर्जा Energy में परिवर्तित करते हैं व अंगों के निर्माण में सहायक होते हैं। जब भी हमारे शरीर में कार्बोहाड्रेट्स Carbohydrate (ऊर्जा) की कमी होती है तो हमें भूख लगती है और हम भोजन से उनकी पूर्ति कर लेते हैं

लेकिन यदि हमारे शरीर में विटामिन्स व मिनरल्स minerals की कमी होती है तो बीमारी disease होने पर ही उनका पता चलता है। हम जागरूक होकर विटामिन्स व मिनरल्स minerals की नियमित पूर्ति करते रहे तो हम गंभीर बीमारियों bimariyo se अपना बचाव कर सकते हैं।



Post a Comment

0 Comments